उद्योगों की स्थापना के लिये मुख्यमंत्री चौहान से उद्योगपतियों ने की भेंट

इंदौर में इंटरनेशनल मेगा फर्नीचर क्लस्टर और खिलौना क्लस्टर एवं एंटीबायोटिक्स उद्योगों की स्थापना पर हुई चर्चा

भोपाल: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर मध्यप्रदेश में आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश और वोकल फॉर लोकल के अंतर्गत स्थानीय उत्पादों और उद्योगों को चाइना जैसे देशों से प्रतिस्पर्धा के लिये और सक्षम बनाने की विशेष पहल की जा रही है। मुख्यमंत्री चौहान से मंत्रालय में इंदौर में इंटरनेशलन मेगा फर्नीचर क्लस्टर और इंदौर खिलौना क्लस्टर की स्थापना के लिये स्थानीय उद्यमियों के समूह और भारत सरकार के उद्यम अंतर्गत दवा निर्माता कम्पनी कर्नाटका एंटीबायोटिक्स एण्ड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड के महाप्रबंधक उदय कामथ और एम.एन. विजय कुमार ने मुलाकात की।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में उद्योगों की स्थापना के लिये सभी आवश्यक सुविधाएँ और स्वीकृतियाँ सहजता से दी जा रही हैं और उद्यम स्थापना को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने इन उद्योगों की स्थापना के लिये अंतर्राष्ट्रीय मानदण्डों के अनुरूप अधोसंरचना विकास और विशेष सुविधाएँ प्रदान करने के निर्देश दिये। बैठक में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम, विज्ञान प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा, जल संसाधन, मछुआ कल्याण एवं मत्स्य-विकास मंत्री तुलसी सिलावट, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी, विभागीय अधिकारी, आयुक्त जनसंपर्क डॉ. सुदाम खाड़े मौजूद थे।

इंदौर इंटरनेशनल मेगा फर्नीचर क्लस्टर

इंदौर शहर के नजदीक अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट से 20 किलोमीटर धार रोड पर ग्राम बेटमाखुर्द में क्लस्टर डेवलपमेंट स्कीम के तहत एस.पी.वी के माध्यम से ‘इंदौर इंटरनेशनल मेगा फर्नीचर क्लस्टर’ का निर्माण तीन से चार चरणों में प्रस्तावित है। इसे 180 हेक्टयर अर्थात 450 एकड़ में विकसित किया जाएगा।

इस क्लस्टर की स्थापना से करीब 12 हजार से अधिक रोजगार के अवसर सृजित होंगे। करीब 750 करोड़ रूपये का पूंजी विनियोजन होगा। अनुमानित वार्षिक टर्नओवर 5 हजार करोड़ रूपये से अधिक संभावित है। शहर और प्रदेश की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ब्रांड वैल्यू बढ़ेगी। निर्यात की संभावनाएँ बढ़ेंगी। साथ ही प्रौद्योगिकी, कौशल और गुणवत्ता में सुधार होगा। उद्योगों के सहायक कार्यों के लिये स्वयं सहायता समूहों के लिये रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। निर्माण बढ़ने से कीमतों में नियंत्रण बढ़ेगा। फर्नीचर आयात में कमी से विदेशी मुद्रा की बचत होगी।

इंदौर खिलौना क्लस्टर

इंदौर स्थित राऊ रंगवासा औद्योगिक क्षेत्र में क्लस्टर डेवलपमेंट स्कीम के तहत एस.पी.वी. के माध्यम से ‘इंदौर खिलौना क्लस्टर’ का निर्माण 3.5 हेक्टेयर क्षेत्र में प्रस्तावित है। मुख्यमंत्री चौहान ने क्लस्टर स्थापना के लिये सभी जरूरी सहयोग और सुविधाएँ उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

इस क्लस्टर की स्थापना से प्रथम चरण में तीन हजार से अधिक नवीन रोजगार सृजित होगा। इसमें करीब 60 करोड़ रूपये का पूंजी विनियोजन होने की संभावना है। वार्षिक टर्नओवर करीब 250 करोड़ रूपये से अधिक होगा। वैश्विक स्तर पर निर्यात बढ़ेगा। राज्य सरकार की नीति के तहत मध्यप्रदेश में ‘खिलौना का हब’ बनाने के लिये प्रथम पहल की जा रही है। इंदौर खिलौना क्लस्टर की स्थापना से बच्चों को कम कीमत पर खिलौने उपलब्ध हो सकेंगे। वोकल फॉर लोकल के अंतर्गत गुणवत्तायुक्त खिलौना का उत्पादन बढ़ाकर चाइना जैसे देशों से प्रतिस्पर्धा के प्रयास किये जाएंगे।

कर्नाटका एंटीबायोटिक्स एण्ड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड

मुख्यमंत्री चौहान के समक्ष भारत सरकार के अंतर्गत उद्यम कर्नाटका एंटीबायोटिक्स एण्ड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड के अधिकारियों ने दवा निर्माण के लिये उद्योग स्थापना की कार्य-योजना प्रस्तुत की। बताया गया कि मध्यप्रदेश के इंदौर और पीथमपुर तथा अन्य उचित स्थान पर कम्पनी द्वारा दवा निर्माण के लिये करीब 300 करोड़ रूपये के पूंजी विनियोजन से 40 एकड़ भूमि की आवश्यकता होगी और करीब दो हजार से अधिक रोजगार के अवसर सृजित होंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने इस प्रस्ताव पर हरसंभव सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया।

Raj Soft Solution: Website designing company in raipur chhattisgarh.Contact Us +91-8770793941. अपना वेबसाइट बनवाये, अपने बजट में साथ ही डोमेन रजिस्ट्रेशन और होस्टिंग भी और 1 साल का मेंटेनेंस भी.

Daily Chhattisgarh News

I am Journalist, I am working in www.vedantbhoomi.com since last 7 years. I am covering Latest update on Corona News. I am also updating Breaking & latest news of Raipur including all Chhattisgarh's Cities. Get every news from DPR. I am covering Chhattisgarh's CM Bhupesh Baghel all activities.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button